• हिन्दी

    इसमें कोई शक नहीं कि तौहीद (एकेश्वरवाद) इस्लाम धर्म में सबसे महत्वपूर्ण व प्रमुख मुद्दा है, बल्कि यही वह महान मुद्दा है जिसके कारण अल्लाह ससर्वशक्तिमान ने मनुष्य व जिन्नात की रचना की और उसी की ओर आमंत्रित करने के लिए सभी सन्देष्टाओं को भेजा। इसी तरह तौहीद परलोक के दिन जहन्नम में सदैव रहने से बचाव के लिए गारंटी, और स्वर्ग में प्रवेश करने के लिए सबसे बड़ा कारण है। यही नहीं बल्कि वह इस्लाम और नास्तिकता के बीच अंतर करनेवाला ; और जिसने इस तौहीद का कलिमा पढ़ लिया उसके खून, उसके सतीत्व और उसके धन की रक्षा करनेवाला है। प्रस्तुत व्याख्यान में, एकेश्वरवाद की महानता, इसके महत्व व प्रतिष्ठा के कुछ पहलुओं का वर्णन किया गया है।

  • हिन्दी

    हरमैन की महानता और मुसलमानों की ज़िम्मेदारी : प्रस्तुत व्याख्यान में हरमैन शरीफैन की महानता का उल्लेख करते हुए यह स्पष्ट किया गया है कि हरमैम शरीफैन की रक्षा और बचाव करना सभी मुसलमानों की जिम्मेदारी है। साथ ही साथ भारतीय उप-महाद्वीप के अह्ले-हदीस विद्वानों के किंग अब्दुल अजीज के साथ हरमैन के मुद्दों पर समर्थन और सहयोग के कुछ उदाहरणों का उल्लेख किया गया है।

  • हिन्दी

    पैगंबर सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम के संदेश की महानता : इसमें कोई संदेह नहीं कि पैगंबर मुहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम पर अवतरित संदेश मानवजाति के लिए अल्लाह का सबसे संपूर्ण और अंतिम संदेश है। इसलिए मानवजाति के लिए इस दुनिया में सौभाग्य और परलोक में मोक्ष प्राप्त करने का एकमात्र रास्ता पैगंबर सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम के लाए हुए अंतिम ईश्वरीय संदेश का अनुसरण व पालन करना है। प्रस्तुत व्याख्यान में, हमारे पैगंबर सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम के संदेश की महानता के कुछ पहलुओं का वर्णन किया गया है।

फ़ीडबैक