विवरण

मुझे इस बात की जानकारी है कि नबी सल्लल्लाहु अलैहि व सल्लम ने शक के दिन रोज़ा रखने से रोका है, इसी तरह रमज़ान के महीने से एक - दो दिन पहले रोज़ा रखने से भी मना किया है। किन्तु क्या मेरे लिये इन दिनों में पिछले रमज़ान के कुछ छूटे हुए रोज़ों की क़ज़ा करना जाइज़ है ?

फ़ीडबैक