नमाज़ न पढ़ने वाले के रोज़ा का हुक्म

विवरण

उस आदमी का हुक्म क्या है जो रोज़ा रखता है और नमाज़ को छोड़ देता है क्या उस का रोज़ा शुद्ध है ?

फ़ीडबैक